1. देश के बड़े कारोबारी भी खोल सकेंगे अपना बैंक, RBI की समिति का सुझाव  आज तक
  2. Private Banks में प्रमोटर्स की शेयरहोल्डिंग 26% करने की सिफारिश, NBFC हो सकते हैं बैंक में कनवर्ट, ये है शर्त  मनी कंट्रोल
  3. देश में नए निजी बैंक खुलने का रास्ता साफ! RBI वर्किंग ग्रुप ने की ये सिफारिश  News18 हिंदी
  4. बैंकिंग रिफॉर्म: प्राइवेट बैंकों में प्रमोटर्स की अधिकतम हिस्सेदारी 15% से बढ़ाकर 26% की जा सकती है, RBI की ...  Dainik Bhaskar
  5. RBI समिति ने निजी बैंकों में प्रवर्तकों को 26 प्रतिशत तक हिस्सेदारी की छूट देने की सिफारिश की  Hindustan
  6. Google समाचार पर पूरी खबर देखें
समिति ने ये भी कहा है कि निजी बैंकों में प्रमोटर्स की हिस्सेदारी मौजूदा 15 प्रतिशत से बढ़ाकर 26 प्रतिशत की जा सकती है. समिति ने ये भी कहा है कि निजी बैंकों में प्रमोटर्स की हिस्सेदारी मौजूदा 15 प्रतिशत से बढ़ाकर 26 प्रतिशत की जा सकती है.

देश के बड़े कारोबारी भी खोल सकेंगे अपना बैंक, RBI की समिति का सुझाव - Utility AajTak

Reserve Bank of India released a report on internal working group recommendations on private bank ownership and corporate structure.

Private Banks में प्रमोटर्स की शेयरहोल्डिंग 26% करने की सिफारिश, NBFC हो सकते हैं बैंक में कनवर्ट, ये है शर्त RBI panel suggests promoter stake cap to be raised to 26 percent, NBFCs can be converted into Banks

निजी क्षेत्र के बैंकों में मालिकाना हक संबंधी गाइडलाइंस और कॉरपोरेट स्ट्रक्चर को लेकर भारतीय रिजर्व बैंक के इंटर्नल वर्किंग ग्रुप (Internal Working Group of RBI) की रिपोर्ट को आरबीआई (RBI) ने जारी किया है. इससे देश में नए निजी बैंक खुलने का रास्ता साफ होता दिख रहा है. बता दें कि 12 जून 2020 को आरबीआई ने इंटर्नल वर्किंग ग्रुप का गठन किया था.निजी क्षेत्र के बैंकों में मालिकाना हक संबंधी गाइडलाइंस और कॉरपोरेट स्ट्रक्चर को लेकर भारतीय रिजर्व बैंक के इंटर्नल वर्किंग ग्रुप (Internal Working Group of RBI) की रिपोर्ट को आरबीआई (RBI) ने जारी किया है. इससे देश में नए निजी बैंक खुलने का रास्ता साफ होता दिख रहा है. बता दें कि 12 जून 2020 को आरबीआई ने इंटर्नल वर्किंग ग्रुप का गठन किया था.

देश में नए निजी बैंक खुलने का रास्ता साफ! RBI वर्किंग ग्रुप ने की ये सिफारिश

पिछले कुछ साल से प्राइवेट बैंक के प्रमोटर्स पर बैंक में अपनी हिस्सेदारी घटाकर 15% करने का दबाव बनाया जाता रहा है,बैंकिंग कानून में संशोधन के बाद ही बड़ी कंपनियों या औद्योगिक घरानों को बैंकों का प्रमोटर बनने की अनुमति देने का भी सुझाव | प्राइवेट बैंकों में प्रमोटर्स की अधिकतम हिस्सेदारी 15% से बढ़ाकर 26% की जा सकती है, RBI की समिति ने दिया सुझावपिछले कुछ साल से प्राइवेट बैंक के प्रमोटर्स पर बैंक में अपनी हिस्सेदारी घटाकर 15% करने का दबाव बनाया जाता रहा है,बैंकिंग कानून में संशोधन के बाद ही बड़ी कंपनियों या औद्योगिक घरानों को बैंकों का प्रमोटर बनने की अनुमति देने का भी सुझाव | प्राइवेट बैंकों में प्रमोटर्स की अधिकतम हिस्सेदारी 15% से बढ़ाकर 26% की जा सकती है, RBI की समिति ने दिया सुझाव

Promoters maximum stake in private banks may be increased from 15 pc to 26 pc RBI committee suggests | प्राइवेट बैंकों में प्रमोटर्स की अधिकतम हिस्सेदारी 15% से बढ़ाकर 26% की जा सकती है, RBI की समिति ने दिया सुझाव - Dainik Bhaskar

रिजर्व बैंक की समिति ने निजी बैंकों में प्रवर्तकों की हिस्सेदारी की सीमा 15 साल में 15 प्रतिशत rbi comitee Proposal to increase promoter holding in private banks from 15 percent to 26 percent in 15 years, Business Hindi News - Hindustanभारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के एक कार्यकारी समूह ने निजी बैंकों में प्रवर्तकों की हिस्सेदारी 15 साल में मौजूदा 15 प्रतिशत से बढ़ाकर 26 प्रतिशत करने की सिफारिश की है। केंद्रीय बैंक द्वारा गठित समूह...

rbi committee Proposal to increase promoter holding in private banks from 15 percent to 26 percent in 15 years - RBI समिति ने निजी बैंकों में प्रवर्तकों को 26 प्रतिशत तक हिस्सेदारी की छूट देने की सिफारिश की

Access Denied

आरबीआइ ने जून 2020 में बैंकों में इक्विटी होल्डिंग के पैटर्न में बदलाव पर सुझाव देने के लिए आंतरिक कार्य दल का गठन किया था जिसकी रिपोर्ट शुक्रवार को सार्वजनिक की गई है। कार्य दल का पहला सुझाव यही है कि 15 वर्षों में प्रवर्तकों की हिस्सेदारी 26 फीसद हो।आरबीआइ ने जून 2020 में बैंकों में इक्विटी होल्डिंग के पैटर्न में बदलाव पर सुझाव देने के लिए आंतरिक कार्य दल का गठन किया था जिसकी रिपोर्ट शुक्रवार को सार्वजनिक की गई है। कार्य दल का पहला सुझाव यही है कि 15 वर्षों में प्रवर्तकों की हिस्सेदारी 26 फीसद हो।

Big Companies may be Allowed to Open Banks RBI Panel Recommends