1. NPR को लेकर कांग्रेस में घमासान, चिदंबरम से भिड़े संजय निरुपम  आज तक
  2. JNU में बोले चिदंबरम, CAA के चलते एक भी मुस्लिम को शिविर भेजा जाता है तो जनांदोलन होगा  Navbharat Times
  3. CAA पर JNU में बोले चिदंबरम- बाबा साहेब को तीन महीने लगे थे नागरिकता पर अनुच्छेद बनाने में, पर मोदी सरकार ने....  NDTV Khabar
  4. जेएनयू में CAA के विरोध में चिदंबरम का भाषण, बताया क्यों नहीं गए शाहीन बाग  आज तक
  5. नागरिकता कानून/ चिदंबरम ने जेएनयू में कहा- अगर मुसलमानों को डिटेंशन कैंप में भेजा गया तो बड़ा आंदोलन चलाया जाना चाहिए  दैनिक भास्कर
  6. Google समाचार पर पूरी खबर देखें
गुरुवार को जेएनयू में कांग्रेस के दिग्गज नेता पी. चिदंबरम ने कहा था कि अगर सभी राज्य के लोग एनपीआर के खिलाफ लामबंद हो जाएं और राज्य सरकारें फैसला कर लें कि इसको लागू नहीं किया जाएगा, तो यह विफल हो जाएगा. राज्यों के सहयोग के बिना एनपीआर को लागू नहीं किया जा सकता है. गुरुवार को जेएनयू में कांग्रेस के दिग्गज नेता पी. चिदंबरम ने कहा था कि अगर सभी राज्य के लोग एनपीआर के खिलाफ लामबंद हो जाएं और राज्य सरकारें फैसला कर लें कि इसको लागू नहीं किया जाएगा, तो यह विफल हो जाएगा. राज्यों के सहयोग के बिना एनपीआर को लागू नहीं किया जा सकता है.

NPR को लेकर कांग्रेस में घमासान, चिदंबरम से भिड़े संजय निरुपम - Npr protest congress party former union minister p chidambaram vs sanjay nirupam jnu maharashtra news - AajTak

India News: चिदंबरम ने कहा कि असम में एनआरसी के बाद 19 लाख लोगों का नाम राष्ट्रीय नागरिक पंजी से बाहर रहने के बाद सरकार सीएए लेकर आई ताकि इनमें से 12 लाख हिंदुओं को नागरिकता दी जाए। India News: चिदंबरम ने कहा कि असम में एनआरसी के बाद 19 लाख लोगों का नाम राष्ट्रीय नागरिक पंजी से बाहर रहने के बाद सरकार सीएए लेकर आई ताकि इनमें से 12 लाख हिंदुओं को नागरिकता दी जाए।

चिदंबरम ने कहा कि एनपीआर एनआरसी और सीएए तीनों अलग हैं लेकिन तीनो इंटरकनेक्टेड है, संविधान में नागरिकता का प्रावधान है और पूरे विश्व में हर जगह देश के अंदर रहने वाले नागरिकों को नागरिकता का प्रावधान होता है अगर किसी पिता, ग्रैंड पेरेंट्स इंडिया में रह चुके हैं उनके बच्चे यहीं के नागरिक होते हैं.चिदंबरम ने कहा कि एनपीआर एनआरसी और सीएए तीनों अलग हैं लेकिन तीनो इंटरकनेक्टेड है, संविधान में नागरिकता का प्रावधान है और पूरे विश्व में हर जगह देश के अंदर रहने वाले नागरिकों को नागरिकता का प्रावधान होता है अगर किसी पिता, ग्रैंड पेरेंट्स इंडिया में रह चुके हैं उनके बच्चे यहीं के नागरिक होते हैं.

Chidambaram says in JNU Citizenship is being made Religious Base instead of Territory Base - CAA पर JNU में बोले चिदंबरम- बाबा साहेब को तीन महीने लगे थे नागरिकता पर अनुच्छेद बनाने में, पर मोदी सरकार ने.... | India News in Hindi

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा- सरकार किसी भी दिन अचानक से जेएनयू का नाम मोदी या अमित शाह यूनिवर्सिटी कर सकती है ‘सीएए में 3 देशों के अल्पसंख्यकों का ही जिक्र क्यों हैं, इसमें नेपाल, भूटान और चीन को शामिल क्यों नहीं किया गया?’ | Congress leader Chidambaram said - If Muslims are sent to Detention Camp, then mass movement should be conducted - देश न्यूज,देश समाचार पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा- सरकार किसी भी दिन अचानक से जेएनयू का नाम मोदी या अमित शाह यूनिवर्सिटी कर सकती है ‘सीएए में 3 देशों के अल्पसंख्यकों का ही जिक्र क्यों हैं, इसमें नेपाल, भूटान और चीन को शामिल क्यों नहीं किया गया?’ | Congress leader Chidambaram said - If Muslims are sent to Detention Camp, then mass movement should be conducted

Congress leader Chidambaram said - If Muslims are sent to Detention Camp, then mass movement should be conducted | चिदंबरम ने जेएनयू में कहा- अगर मुसलमानों को डिटेंशन कैंप में भेजा गया तो बड़ा आंदोलन चलाया जाना चाहिए - Dainik Bhaskar

कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने गुरुवार को दिल्ली की जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी पहुंचे। इस दौरान उन्होंने सीएए, एनआरसी और एनपीआर पर खुलकर बात की।, Chidambaram says We are not going to Shaheen Bagh, because this is trap of BJP कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने गुरुवार को दिल्ली की जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी पहुंचे। इस दौरान उन्होंने सीएए, एनआरसी और एनपीआर पर खुलकर बात की।, Chidambaram says We are not going to Shaheen Bagh, because this is trap of BJP

चिदंबरम बोले-हम शाहीन बाग नहीं जा रहे हैं, क्योंकि ये भाजपा का जाल है | Chidambaram says We are not going to Shaheen Bagh, because this is trap of BJP - Hindi Oneindia

यदि किसी मुस्लिम को सीएए की वैधता को बरकरार रखने को लेकर डिटेंशन कैंप में हिरासत में भेजा जाता है, तो उन्हें जन आंदोलन करना चाहिए। यह बात बृहस्पतिवार शाम वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने जेएनयू कैंपस में छात्रों को संबोधित करते हुए कही।यदि किसी मुस्लिम को सीएए की वैधता को बरकरार रखने को लेकर डिटेंशन कैंप में हिरासत में भेजा जाता है, तो उन्हें जन आंदोलन

P Chidambaram In Jnu, There Must Be A Massive Movement If A Muslim Is Being Sent To Detention Camp - किसी मुसलमान को डिटेंशन कैंप में भेजने पर विशाल जन आंदोलन होना चाहिए : चिदंबरम - Amar Ujala Hindi News Live

पूर्व गृह मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम गुरुवार को जवाहरलाल P Chidambaram to address JNU students on Citizenship Amendment Act today, Hindi News - Hindustanपूर्व गृह मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम गुरुवार को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्रों को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के मुद्दों पर...

P Chidambaram to address JNU students on Citizenship Amendment Act today - पी. चिदंबरम आज नागरिकता संशोधन कानून पर जेएनयू छात्रों को करेंगे संबोधित

चिदंबरम ने कहा कि कांग्रेस और लेफ्ट पार्टियों का विरोध जिनको बिल से बाहर रखा गया है उसे लेकर है न कि जिनको रखा गया है उनका विरोध है. बीजेपी कहती है कांग्रेस प्रताड़ित हिन्दू, सिख को नागरिकता देने के विरोध में है, ये झूठ है. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी चिदंबरम ने कहा कि कांग्रेस और लेफ्ट पार्टियों का विरोध जिनको बिल से बाहर रखा गया है उसे लेकर है न कि जिनको रखा गया है उनका विरोध है. बीजेपी कहती है कांग्रेस प्रताड़ित हिन्दू, सिख को नागरिकता देने के विरोध में है, ये झूठ है. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

अगर डिटेंशन कैंप में डाले गए मुस्लिम तो होना चाहिए बड़ा आंदोलन: चिदंबरम | There must be huge mass movement if Muslims being sent to detention camps Chidambaram | nation - News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी