UP Chunav : 3 मंत्री, 11 विधायक, योगी आदित्यनाथ को छोड़ अखिलेश यादव की शरण में जाने वालों का जातीय आधार जान लीजिए  Navbharat TimesGoogle समाचार पर पूरी खबर देखें
यूपी चुनाव की गहमागहमी के बीच दल-बदलने का सिलसिला भी काफी तेज हो गया है। नेताओं की इस रणनीति ने भाजपा की चिंता बढ़ा दी है। सबसे बड़ी बात यह है कि भाजपा छोड़ने वाले अधिकांश नेता ओबीसी समुदाय से आते हैं और वे समाजवादी पार्टी में जाकर पार्टी को एक नई मजबूती देने के संकेत दे रहे हैं। इन क्षेत्रीय क्षत्रपों की बात भाजपा में नहीं बनने के बाद ऐन चुनाव से पहले पार्टी छोड़ने का आधार पिछड़ों की बात न सुना जाना तो कतई नहीं है। वरना, मंत्री बने नेता पार्टी नहीं छोड़ते।यूपी चुनाव की गहमागहमी के बीच दल-बदलने का सिलसिला भी काफी तेज हो गया है। नेताओं की इस रणनीति ने भाजपा की चिंता बढ़ा दी है। सबसे बड़ी बात यह है कि भाजपा छोड़ने वाले अधिकांश नेता ओबीसी समुदाय से आते हैं और वे समाजवादी पार्टी में जाकर पार्टी को एक नई मजबूती देने के संकेत दे रहे हैं। इन क्षेत्रीय क्षत्रपों की बात भाजपा में नहीं बनने के बाद ऐन चुनाव से पहले पार्टी छोड़ने का आधार पिछड़ों की बात न सुना जाना तो कतई नहीं है। वरना, मंत्री बने नेता पार्टी नहीं छोड़ते।

navbharattimes.indiatimes.com

चुनाव आते ही बड़े नेता सुरक्षित ठिकाने की तलाश में दलबदल का दांव खेलने लगे हैं। भाजपा का खेमा छोड़ने वाले 2 मंत्री OBC-SC की उपेक्षा का बिगुल बजा रहे हैं। हकीकत उनकी खुद की विधानसभा सीटों से शुरू होती है। बिना MY फैक्टर के उनका चुनाव जीतना थोड़ा मुश्किल था। MY फैक्टर, यानी मुस्लिम-यादव। यही वजह है कि मंत्री-विधायकों ने दलबदल की हैट्रिक लगा दी है। इस कतार में कुछ और नाम भी हैं। | UP Election 2022; Real Story of Swami Prasad Maurya, Dara Singh Chauhan and Avtar Bhadana Resignation 2 मंत्री, 5 विधायकों के इस्तीफे की असल कहानी, सबने कहा-ओबीसी-एससी की उपेक्षा से छोड़ी भाजपा, हकीकत-इनका MY फैक्टर के बिना चुनाव जीतना मुश्किल था, Everyone said -चुनाव आते ही बड़े नेता सुरक्षित ठिकाने की तलाश में दलबदल का दांव खेलने लगे हैं। भाजपा का खेमा छोड़ने वाले 2 मंत्री OBC-SC की उपेक्षा का बिगुल बजा रहे हैं। हकीकत उनकी खुद की विधानसभा सीटों से शुरू होती है। बिना MY फैक्टर के उनका चुनाव जीतना थोड़ा मुश्किल था। MY फैक्टर, यानी मुस्लिम-यादव। यही वजह है कि मंत्री-विधायकों ने दलबदल की हैट्रिक लगा दी है। इस कतार में कुछ और नाम भी हैं। | UP Election 2022; Real Story of Swami Prasad Maurya, Dara Singh Chauhan and Avtar Bhadana Resignation 2 मंत्री, 5 विधायकों के इस्तीफे की असल कहानी, सबने कहा-ओबीसी-एससी की उपेक्षा से छोड़ी भाजपा, हकीकत-इनका MY फैक्टर के बिना चुनाव जीतना मुश्किल था, Everyone said -

UP Election 2022; Real Story of Swami Prasad Maurya, Dara Singh Chauhan and Avtar Bhadana Resignation | सबने कहा- OBC-SC की उपेक्षा से छोड़ी भाजपा, हकीकत- इनका MY फैक्टर के बिना चुनाव जीतना मुश्किल था - Dainik Bhaskar

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले स्वामी प्रसाद मौर्य, दारा सिंह चौहान, धर्म सिंह सैनी का मंत्री पद से इस्तीफा और आधा दर्जन ओबीसी विधायकों के छोड़ने से बन रहे माहौल को तोड़ने के लिए बीजेपी ने खास प्लान बनाया है. बीजेपी अपने और दोनों सहयोगी दल के ओबीसी चेहरे के साथ-साथ दलित नेताओं का मोर्चे पर लगाने का प्लान बनाया है. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले स्वामी प्रसाद मौर्य, दारा सिंह चौहान, धर्म सिंह सैनी का मंत्री पद से इस्तीफा और आधा दर्जन ओबीसी विधायकों के छोड़ने से बन रहे माहौल को तोड़ने के लिए बीजेपी ने खास प्लान बनाया है. बीजेपी अपने और दोनों सहयोगी दल के ओबीसी चेहरे के साथ-साथ दलित नेताओं का मोर्चे पर लगाने का प्लान बनाया है.

UP चुनाव: OBC नेताओं के लगातार BJP छोड़ने से बने माहौल को तोड़ने के लिए पार्टी ने बनाई रणनीति - up bjp ministers mlas resignations political loss focusing dalit obc vote bank keshav anupriya nishad hindutva NTC - AajTak

twitter.com

twitter.com

twitter.com

Uttar Pradesh election minister बड़ा शोर मचा है कि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार से मंत्री इस्तीफा दे रहे हैं और विधायक पार्टी छोड़ रहे हैं।Uttar Pradesh election minister बड़ा शोर मचा है कि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार से मंत्री इस्तीफा दे रहे हैं और विधायक पार्टी छोड़ रहे हैं।

Uttar Pradesh election minister मंत्री तो ममता के भी छोड़ रहे थे!

www.prabhatkhabar.com