1. नेवी के लिए बना देश का पहला पैसेंजर ड्रोन: वरुण ड्रोन 130 किलो वजन उठाने में सक्षम, खराबी आने पर बिना क्रैश...  Dainik Bhaskar
  2. देश का पहला "मानव ड्रोन", 130 KG वजन के साथ 35 KM तक भर सकता है उड़ान... जानें अन्य खूबियां  NDTV India
  3. Google समाचार पर पूरी खबर देखें
महाराष्ट्र में भारतीय नौसेना के लिए देश का पहला पैसेंजर ड्रोन तैयार किया गया है। ड्रोन का नाम वरुण है। ये 130 किलोग्राम के वजन के साथ उड़ान भर सकता है और 25 किमी. का सफर 25 से 33 मिनट में पूरा कर लेगा। ड्रोन को पुणे की चाकन सागर डिफेंस इंजीनियरिंग कंपनी ने बनाया है। | India's First Passenger Drone Varuna; What is the maximum speed of drone? महाराष्ट्र में भारतीय नौसेना के लिए देश का पहला पैसेंजर ड्रोन तैयार किया गया है। ड्रोन का नाम वरुण रखा गया है। ये 130 किलोग्राम के वजन के साथ उड़ान बर सकता है,महाराष्ट्र में भारतीय नौसेना के लिए देश का पहला पैसेंजर ड्रोन तैयार किया गया है। ड्रोन का नाम वरुण है। ये 130 किलोग्राम के वजन के साथ उड़ान भर सकता है और 25 किमी. का सफर 25 से 33 मिनट में पूरा कर लेगा। ड्रोन को पुणे की चाकन सागर डिफेंस इंजीनियरिंग कंपनी ने बनाया है। | India's First Passenger Drone Varuna; What is the maximum speed of drone? महाराष्ट्र में भारतीय नौसेना के लिए देश का पहला पैसेंजर ड्रोन तैयार किया गया है। ड्रोन का नाम वरुण रखा गया है। ये 130 किलोग्राम के वजन के साथ उड़ान बर सकता है,

वरुण ड्रोन 130 किलो वजन उठाने में सक्षम, खराबी आने पर बिना क्रैश हुए सेफ लैंडिंग करेगा | India's First Passenger Drone Varuna; Know average top speed, Design and Weight - Dainik Bhaskar

ये ड्रोन 130 किलो वजन उठाने की क्षमता रखता है और 30 से 35 किमी तक का सफर तय कर सकते है. इतना ही नहीं इस ड्रोन में हवा में तकनीकी खराबी के बाद सुरक्षित लैंडिंग करने की सक्षम भी है.ये ड्रोन 130 किलो वजन उठाने की क्षमता रखता है और 30 से 35 किमी तक का सफर तय कर सकते है. इतना ही नहीं इस ड्रोन में हवा में तकनीकी खराबी के बाद सुरक्षित लैंडिंग करने की सक्षम भी है.

India First Human Drone, Can Carry 130 KG Weight, Fly Up To 35 KM Sagar Defense Engineering - देश का पहला मानव ड्रोन, 130 KG वजन के साथ 35 KM तक भर सकता है उड़ान... जानें अन्य खूबियां | India In Hindi

महाराष्ट्र के पुणे की स्टार्टअप कंपनी सागर डिफेंस इंजीनियरिंग ने भारतीय नौसेना (Indian Navy) के लिए पैसेंजर ड्रोन बनाया है। उड़ान के दौरान किसी तरह की तकनीकी खराबी आने पर यह सेफ लैंडिग कर सकता है। इसका नाम वरुण है।सागर डिफेंस इंजीनियरिंग कंपनी ने भारतीय नौसेना (Indian Navy) के लिए भारत का पहला पैसेंजर ड्रोन बनाया है। यह 130kg वजन लेकर उड़ान भर सकता है। इसकी रेंज 25 किलोमीटर है। 

Indian Navy के लिए बना भारत का पहला पैसेंजर ड्रोन, 130 kg वजन लेकर भर सकता है उड़ान

इमरजेंसी में बन जाएगा एयर एम्बुलेंसइमरजेंसी में बन जाएगा एयर एम्बुलेंस

नौसेना के लिए तैयार हुआ देश का पहला पैसेंजर ड्रोन, 130 किलो वजन उठाने में सक्षम

महाराष्ट्र में भारतीय नौसेना के लिए देश का पहला पैसेंजर ड्रोन तैयार किया गया है। ड्रोन का नाम वरुण रखा गया है। ये 130 किलोग्राम के वजन के साथ उड़ान भर सकता है, जो 25 किमी का सफर 25 से 33 मिनट में पूरा कर देगा। ड्रोन को पुणे के चाकन सागर डिफेंस इंजीनियरिंग कंपनी …

देश का पहला पैसेंजर ड्रोन तैयार : नेवी ऑफिसर्स 'वरुण' में भरेंगे उड़ान, 130 किलो वजन उठाने में सक्षम - यश भारत

Varuna Drone News: ड्रोन हवा में तकनीकी खराबी के बाद भी सुरक्षित लैंडिंग में सक्षम है. इसके अलावा आपात स्थिति में पैराशूट अपने आप खुल जाएगा और सुरक्षित लैंडिंग में मदद करेगा.Varuna Drone News: ड्रोन हवा में तकनीकी खराबी के बाद भी सुरक्षित लैंडिंग में सक्षम है. इसके अलावा आपात स्थिति में पैराशूट अपने आप खुल जाएगा और सुरक्षित लैंडिंग में मदद करेगा.

Varuna Drone India First Passenger Drone Designed For The Indian Navy Will Fly Without Pilot | Varuna Drone: भारतीय नौसेना के लिए बनाया गया भारत का पहला पैसेंजर ड्रोन, बिना पायलट के भरेगा उड़ान

Human Drone : साइंस और टेक्नोलॉजी का नित नया कमाल सामने आते रहता है। ड्रोन इसी कमाल की एक मिसाल है। सामान्य रूप से हम जानते हैं कि ड्रोन मानव रहित होते हैं,Human Drone : साइंस और टेक्नोलॉजी का नित नया कमाल सामने आते रहता है। ड्रोन इसी कमाल की एक मिसाल है। सामान्य रूप से हम जानते हैं कि ड्रोन मानव रहित होते हैं,

यह है भारत का पहला मानव ड्रोन, 130 किलो वजन लेकर भर सकता है उड़ान, 35 किलोमीटर तक का सफर… - Samachar Samrat

Just a moment...

कंपनी के को-फाउंडर बब्बर ने बताया कि ड्रोन हवा में तकनीकी खराबी के बाद भी सुरक्षित लैंडिंग करने में सक्षम है। इसमें एक पैराशूट भी है, जो इमरजेंसी या खराबी के दौरान अपने आप खुल जाएगा और ड्रोन सुरक्षित लैंड हो जाएगा। इसके साथ ही वरुण का इस्तेमाल एयर एम्बुलेंस और दूर के इलाकों में सामान के ट्रांसपोर्ट के लिए किया जा सकता है।कंपनी के को-फाउंडर बब्बर ने बताया कि ड्रोन हवा में तकनीकी खराबी के बाद भी सुरक्षित लैंडिंग करने में सक्षम है। इसमें एक पैराशूट भी है, जो इमरजेंसी या खराबी के

देश का पहला पैसेंजर ड्रोन तैयार : 130 किलोग्राम के वजन के साथ उड़ान भर सकता है और 25 किमी. का सफर 25 से 33 मिनट में पूरा कर लेगा

,68852,68402,68334,68306,68139

देश का पहला पैसेंजर ड्रोन बनकर तैयार, वरुण ड्रोन 130 किलो वजन उठाने में सक्षम, खराबी आने पर बिना क्रैश हुए सेफ लैंडिंग करेगा news in hindi

Varuna Drone Update: महाराष्ट्र (Maharashtra) के पुणे में एक स्टार्टअप ने देश का पहला यात्री ड्रोन 'वरुण' (Varuna) बनाया है. इस खास ड्रोन को भारतीय नौसेना ( Indian Navy) के लिए विकसित किया गया है. इस ड्रोन (Drone) की सबसे खास बात यह...Varuna Drone Update: महाराष्ट्र (Maharashtra) के पुणे में एक स्टार्टअप ने देश का पहला यात्री ड्रोन 'वरुण' (Varuna) बनाया है. इस खास ड्रोन को भारतीय नौसेना ( Indian Navy) के लिए विकसित किया गया है. इस ड्रोन (Drone) की सबसे खास बात यह...

Varuna Drone: भारतीय नौसेना के लिए बनाया गया भारत का पहला पैसेंजर ड्रोन, बिना पायलट के भरेगा उड़ान - Uday Bulletin