1. एलएसी पर तनाव कम करने के लिए भारत और चीन के बीच अब हर हफ्ते होगी बातचीत  दैनिक जागरण (Dainik Jagran)
  2. गलवान घाटी में मारे गए अपने सैनिकों पर चीन खामोश, बातचीत में भी नहीं कर रहा जिक्र: सूत्र  News18 हिंदी
  3. 15 जून को गलवान में PLA के कितने सैनिक हताहत, इस पर अभी तक चुप है चीन: सूत्र  Navbharat Times
  4. भारत-चीन के बीच हर सप्ताह होगी चर्चा, क्या सीमा विवाद पर बनेगी बात?  आज तक
  5. Galwan Valley में नदी के पास दिखे काले तिरपाल | India-China Clashes In Ladakh  NDTV India
  6. Google समाचार पर पूरी खबर देखें
India and China Tension पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर तनाव कम करने को लेकर तरीके खोजने के लिए अब भारत और चीन हर हफ्ते बातचीत करेंगे।India and China Tension पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर तनाव कम करने को लेकर तरीके खोजने के लिए अब भारत और चीन हर हफ्ते बातचीत करेंगे।

India and China will hold talks every week for de escalating tension on Eastern Ladakh sector

सूत्रों ने बताया कि जब वे डब्ल्यूएमसीसी (WMCC) की बैठक में घटना पर चर्चा कर रहे थे तब वार्ता के दौरान चीनी पक्ष 15 जून की रात को भारत-चीन (India-China) के बीच गलवान घाटी (Galwan Valley) में हुई झड़प में हताहतों की संख्या को लेकर मौन था. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी सूत्रों ने बताया कि जब वे डब्ल्यूएमसीसी (WMCC) की बैठक में घटना पर चर्चा कर रहे थे तब वार्ता के दौरान चीनी पक्ष 15 जून की रात को भारत-चीन (India-China) के बीच गलवान घाटी (Galwan Valley) में हुई झड़प में हताहतों की संख्या को लेकर मौन था. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

गलवान घाटी में मारे गए अपने सैनिकों पर चीन खामोश, बातचीत में भी नहीं कर रहा जिक्र: सूत्र | india china faceoff China silent over its casualties suffered in Galwan valley during talks Sources | nation - News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

India News: India China Ladakh Clash: 15 जून की रात लद्दाख की गलवान घाटी (Galwan Valley) में कितने चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के कितने सैनिक मारे गए, इसे लेकर चीन ने अभी तक चुप्पी साध रखी है। भारत के साथ बातचीत के दौरान वह हिंसा का जिम्मा भारत पर डाल रहा है लेकिन अपने सैनिकों के हताहत होने का खुलासा नहीं कर रहा है।India News: India China Ladakh Clash: 15 जून की रात लद्दाख की गलवान घाटी (Galwan Valley) में कितने चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के कितने सैनिक मारे गए, इसे लेकर चीन ने अभी तक चुप्पी साध रखी है। भारत के साथ बातचीत के दौरान वह हिंसा का जिम्मा भारत पर डाल रहा है लेकिन अपने सैनिकों के हताहत होने का खुलासा नहीं कर रहा है।

सूत्रों को उम्मीद है कि दोनों देशों के बीच WMCC लेवल की बातचीत से सीमा पर तनाव कम होगा. जाहिर है पिछले कुछ समय में चीन ने कई बार भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश की है. हालांकि भारतीय सेना की बहादुरी की वजह से उन्हें हमेशा मुंह की खानी पड़ी है.सूत्रों को उम्मीद है कि दोनों देशों के बीच WMCC लेवल की बातचीत से सीमा पर तनाव कम होगा. जाहिर है पिछले कुछ समय में चीन ने कई बार भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश की है. हालांकि भारतीय सेना की बहादुरी की वजह से उन्हें हमेशा मुंह की खानी पड़ी है.

भारत-चीन के बीच हर सप्ताह होगी चर्चा, क्या सीमा विवाद पर बनेगी बात? - India china to hold talks weekly to resolve the boundary dispute - AajTak