1. BJP meeting: 100 के बाद अब 40 विधायकों पर चर्चा, दिल्ली में फिर शुरू हुई भाजपा कोर कमिटी की बैठक, जानें देर रात तक के फैसले  Navbharat Times
  2. UP Election: यूपी चुनाव से पहले बीजेपी में इस्तीफों का दौर जारी, कानपुर में भी नेताओं  ABP न्यूज़
  3. दल-बदलुओं को टिकट देने की कीमत चुका रही है भाजपा: तीन मंत्रियों और 11 विधायकों के पाला बदलने से सरकार परेशान  अमर उजाला
  4. भास्कर एक्सप्लेनर: चुनाव के ऐन वक्त बीजेपी विधायकों की भगदड़ की वजह क्या है, बीजेपी पर इसका कितना असर पड़ेगा?  दैनिक भास्कर
  5. Google समाचार पर पूरी खबर देखें
BJP List:बीजेपी में कहा जा रहा है कि स्वामी प्रसाद मौर्य अपने बेटे उत्कर्ष के लिए रायबरेली की उंचाहार सीट से बीजेपी की टिकट चाह रहे थे, लेकिन बीजेपी सहमत इसलिए नहीं दिख रही थी कि उ‌त्कर्ष इसी सीट से पिछला चुनाव हार गए थे।BJP List:बीजेपी में कहा जा रहा है कि स्वामी प्रसाद मौर्य अपने बेटे उत्कर्ष के लिए रायबरेली की उंचाहार सीट से बीजेपी की टिकट चाह रहे थे, लेकिन बीजेपी सहमत इसलिए नहीं दिख रही थी कि उ‌त्कर्ष इसी सीट से पिछला चुनाव हार गए थे।

navbharattimes.indiatimes.com

UP Elections: उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्रिमंडल में शामिल तमाम नेता धड़ाधड़ इस्तीफा देकर समाजवादी पार्टी का दामन थाम चुके हैं. ऐसे में कानपुर में भी नेताओं का पाला बदलने का बाजार गर्म है.UP Elections: उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्रिमंडल में शामिल तमाम नेता धड़ाधड़ इस्तीफा देकर समाजवादी पार्टी का दामन थाम चुके हैं. ऐसे में कानपुर में भी नेताओं का पाला बदलने का बाजार गर्म है.

Kanpur Speculation Of Leaders Changing Sides Before The UP Elections Ann | UP Election: यूपी चुनाव से पहले बीजेपी में इस्तीफों का दौर जारी, कानपुर में भी नेताओं के पाला बदलने का कयास

उत्तर प्रदेश में पिछले तीन दिनों में बीजेपी के 8 विधायक, जिनमें तीन मंत्री भी हैं, इन्होंने जातीय समीकरणों के आधार पर पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. ये सारे पिछड़ी जातियों के नेता हैं और पांच साल तक मंत्री और विधायक रहने के बाद, अब इन नेताओं को ऐसा लगता है कि इनकी जातियों के साथ अन्याय हुआ है और अब ये नई तरह की सोशल इंजीनियरिंग करना चाहते हैं.उत्तर प्रदेश में पिछले तीन दिनों में बीजेपी के 8 विधायक, जिनमें तीन मंत्री भी हैं, इन्होंने जातीय समीकरणों के आधार पर पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. ये सारे पिछड़ी जातियों के नेता हैं और पांच साल तक मंत्री और विधायक रहने के बाद, अब इन नेताओं को ऐसा लगता है कि इनकी जातियों के साथ अन्याय हुआ है और अब ये नई तरह की सोशल इंजीनियरिंग करना चाहते हैं.

Stampede in bjp due to fear of ticket cut, Meet the social engineers of politics in uttar pradesh | टिकट कटने के डर से बीजेपी में भगदड़? UP में राजनीति के सोशल इंजीनियर्स से मिलिए | Hindi News, देश

twitter.com

twitter.com

twitter.com

twitter.com

स्वामी प्रसाद मौर्या, दारा सिंह चौहान के बाद योगी सरकार के तीसरे मंत्री धर्म सिंह सैनी ने भी पार्टी और सरकार से इस्तीफा दे दिया है। बिधूना से भाजपा विधायक विनय शाक्य और लखीमपुर खीरी विधायक बाला प्रसाद अवस्थी के इस्तीफे के बाद पार्टी छोड़ने वाले विधायकों की संख्या 11 हो गई है।बिधूना से भाजपा विधायक विनय शाक्य और लखीमपुर खीरी विधायक बाला प्रसाद अवस्थी के इस्तीफे के बाद पार्टी छोड़ने वाले विधायकों

Up Election 2022: Many Senior Bjp Leaders Believed That Bjp Paying The Price For Giving More Importance To Defectors Than Dedicated Party Workers - दल-बदलुओं को टिकट देने की कीमत चुका रही है भाजपा: तीन मंत्रियों और 11 विधायकों के पाला बदलने से सरकार परेशान - Amar Ujala Hindi News Live

Rajat Sharma Blog: Why MLAs and ministers in UP are changing their parties | अखिलेश यादव ज्यादातर छोटी पार्टियों और उनके नेताओं को अपने खेमे में शामिल करने की कोशिश में लगे हुए हैं।अखिलेश यादव ज्यादातर छोटी पार्टियों और उनके नेताओं को अपने खेमे में शामिल करने की कोशिश में लगे हुए हैं।

Rajat Sharma Blog: Why MLAs and ministers in UP are changing their parties | यूपी में मंत्री और विधायक क्यों बदल रहे हैं अपनी पार्टियां - India TV Hindi News

यूपी में विधानसभा चुनाव के ऐलान के बाद से ही बीजेपी विधायकों में पार्टी छोड़ने की होड़ मची है। अब तक स्वामी प्रसाद मौर्य और दारा सिंह समेत एक दर्जन विधायकों के बगावती सुर अपनाने से बीजेपी को मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। इसका प्रमुख कारण है इनमें से ज्यादातर नेता गैर यादव-ओबीसी समुदाय से आते हैं। इन्हें अब तक बीजेपी का मजबूत समर्थक माना जा रहा था, क्योंकि 2017 में बीजेपी को कुर्मी-कोरी के 57 फ... | What is the reason behind the defection of BJP MLAs at the time of UP election how much will it affect the BJP? आइए जानते हैं कि इन विधायकों और मंत्रियों ने बीजेपी को क्यों छोड़ा है? साथ ही इस चुनाव में इससे क्या असर पड़ेगा?यूपी में विधानसभा चुनाव के ऐलान के बाद से ही बीजेपी विधायकों में पार्टी छोड़ने की होड़ मची है। अब तक स्वामी प्रसाद मौर्य और दारा सिंह समेत एक दर्जन विधायकों के बगावती सुर अपनाने से बीजेपी को मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। इसका प्रमुख कारण है इनमें से ज्यादातर नेता गैर यादव-ओबीसी समुदाय से आते हैं। इन्हें अब तक बीजेपी का मजबूत समर्थक माना जा रहा था, क्योंकि 2017 में बीजेपी को कुर्मी-कोरी के 57 फ... | What is the reason behind the defection of BJP MLAs at the time of UP election how much will it affect the BJP? आइए जानते हैं कि इन विधायकों और मंत्रियों ने बीजेपी को क्यों छोड़ा है? साथ ही इस चुनाव में इससे क्या असर पड़ेगा?

What is the reason behind the defection of BJP MLAs at the time of UP election how much will it affect the BJP? | चुनाव के ऐन वक्त बीजेपी विधायकों की भगदड़ की वजह क्या है, बीजेपी पर इसका कितना असर पड़ेगा? - Dainik Bhaskar

 Lucknow :  भाजपा आलाकमान यूपी चुनाव के प्रत्याशियों को लेकर दिल्ली में तीन दिन से मगजमारी कर रहा है.  स्वामी

मौर्य के इस्तीफे का Side effect : भाजपा की मैराथन बैठक जारी,  यूपी में 100 नहीं ,अब 40  विधायकों के टिकट कटेंगे!   - Lagatar

bjp candidates list अन्य सीटो के लिए कमेटी की ओर से उम्मीदवारों को लेकर मंथन जारी है अब तक लगभग 150 उम्मीदवारों के नाम पर मंथन के बाद मुहर लग गई है मंत्री अमित शाह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान की मौजूदगी में आयोजित बैठक में पश्चिमी यूपी की 71 और ब्रज की 65 सीटों पर विधानसभा चुनाव प्रत्याशियों को लेकर मंथन चल रहा है इन सीटों पर जल्द ही उम्मीदवारों के नामों पर मुहर लगा दी जाएगी। | Lucknow News | Patrika Newsbjp candidates list अन्य सीटो के लिए कमेटी की ओर से उम्मीदवारों को लेकर मंथन जारी है अब तक लगभग 150 उम्मीदवारों के नाम पर मंथन के बाद मुहर लग गई है मंत्री अमित शाह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान की मौजूदगी में आयोजित बैठक में पश्चिमी यूपी की 71 और ब्रज की 65 सीटों पर विधानसभा चुनाव प्रत्याशियों को लेकर मंथन चल रहा है इन सीटों पर जल्द ही उम्मीदवारों के नामों पर मुहर लगा दी जाएगी। | Lucknow News | undefined News | Patrika News

UP Election 2022 : BJP के 150 उम्मीदवारों पर लगी मोहर , नहीं कटेंगे विधायकों के टिकट, जानें क्या चल रहा गुणाभाग | bjp list of candidates for up election 2022 | Patrika News

पढ़े पूरी खबरपढ़े पूरी खबर

यूपी बीजेपी को लग सकता है बड़ा झटका, 13 विधायक छोड़ सकते है पार्टी का साथ | UP BJP may get a big setback, 13 MLAs may leave the party | यूपी बीजेपी को लग सकता है बड़ा झटका, 13 विधायक छोड़ सकते है पार्टी का साथ

www.prabhatkhabar.com

यूपी चुनाव में बीजेपी के करीब 100 मौजूदा विधायकों का पत्ता कट सकता है, बताया गया था कि इस बार करीब 100 मौजूदा विधायकों का टिकट काटा जा सकता है।यूपी चुनाव में बीजेपी के करीब 100 मौजूदा विधायकों का पत्ता कट सकता है, बताया गया था कि इस बार करीब 100 मौजूदा विधायकों का टिकट काटा जा सकता है।

यूपी चुनाव के लिये बीजेपी ने बदल ली है रणनीति, विधायकों के लिये बड़ी खबर

यूपी चुनाव में बीजेपी के करीब 100 मौजूदा विधायकों का पत्ता कट सकता है, बताया गया था कि इस बार करीब 100 मौजूदा विधायकों का टिकट काटा जा सकता है।यूपी चुनाव में बीजेपी के करीब 100 मौजूदा विधायकों का पत्ता कट सकता है, बताया गया था कि इस बार करीब 100 मौजूदा विधायकों का टिकट काटा जा सकता है।

यूपी चुनाव के लिये बीजेपी ने बदल ली है रणनीति, विधायकों के लिये बड़ी खबर

उत्तर प्रदेश में स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) के इस्तीफे के बाद जारी सियासी उठा-पटक के बीच उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Election 2022) के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपनी रणनीति बदल ली है. सूत्रों की मानें तो अमित शाह (Amit Shah) उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh News) में होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election) में सिटिंग विधायकों का अंधाधुंध टिकट काटने के फैसले के खिलाफ हैं.उत्तर प्रदेश में स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) के इस्तीफे के बाद जारी सियासी उठा-पटक के बीच उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Election 2022) के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपनी रणनीति बदल ली है. सूत्रों की मानें तो अमित शाह (Amit Shah) उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh News) में होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election) में सिटिंग विधायकों का अंधाधुंध टिकट काटने के फैसले के खिलाफ हैं.

Amit Shah changed strategy of BJP Ticket distribution for UP elections after Swami Prasad Maurya resignation - यूपी चुनाव के लिए अब अमित शाह ने बदल दी रणनीति, जानें कैसे BJP विधायकों के लिए है राहत वाली बात! – News18 हिंदी