1. अखिलेश यादव ने एक दिन में ही 13 खनन पट्टों को दी थी मंजूरी- CBI  News18 इंडिया
  2. एक मंच पर आए SP-BSP, कहा- BJP हमारे गठबंधन से डरी, CBI से विपक्ष को डरा रही है सरकार  NDTV India
  3. अखिलेश यादव ने एक ही दिन में जारी कर दिए थे 13 खनन पट्टे: सीबीआई  नवभारत टाइम्स
  4. CBI से सहमे विपक्ष की मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चेबंदी, सपा के दर्द पर बसपा ने बहाए आंसू  आज तक
  5. खनन घोटाला: CBI के छापे पर बोले रामगोपाल, बीजेपी ने किया 'तोते' से गठबंधन  News18 इंडिया
  6. Googleसमाचार पर पूरी खबर देखें

सीबीआई ने सोमवार को उत्तर प्रदेश में अवैध खनन मामले का ब्योरा देते हुए दावा किया कि तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कार्यालय ने एक ही दिन में 13 खनन पट्टों को मंजूरी दी थी.

साझा प्रेस कॉन्फ़्रेंस में सपा-बसपा ने कहा कि मोदी सरकार सीबीआई का ग़लत इस्तेमाल कर विपक्ष को डरा रही है. सपा-बसपा के गठबंधन की ख़बर से ही बीजेपी डर गई. और सरकार ने तोते से गठबंधन कर लिया. सपा नेता रामगोपाल यादव ने कहा कि यूपी में BJP को पैर रखने की जगह नहीं मिलेगी. पीएम को बनारस छोड़कर कहीं और जाना होगा. समाजवादी पार्टी और हमारे सहयोगी दल जब सड़कों पर उतरेंगे तो इन्हें काम करना मुश्किल हो जाएगा. वहीं अखिलेश ने बीजेपी की तरफ इशारा करते हुए कहा कि उनके पास सीबीआई है तो हमारे पास गठबंधन है. बीजेपी ध्यान रखे कि CBI चुनाव नहीं जीतती है.

India News: सीबीआई ने दावा किया कि 17 फरवरी को जांच के घेरे में आईं हमीरपुर की डीएम बी. चंद्रकला ने सीएम ऑफिस से मंजूरी मिलने के बाद पट्टों को मंजूरी दी थी। ये पट्टे 2012 में बनी ई-टेंडर पॉलिसी के खिलाफ दिए गए थे, जिसे 29 जनवरी, 2013 को अपने फैसले में इलाहाबाद हाई कोर्ट ने भी माना था।

उत्तर प्रदेश के अवैध खनन मामले को लेकर सीबीआई ने अखिलेश यादव के खिलाफ शिकंजा कसना शुरू किया तो दर्द सपा को ही नहीं बल्कि बसपा और कांग्रेस होने लगा है. अखिलेश के बचाव में बसपा के महाचसिव सतीष चंद्र मिश्रा और कांग्रेस के महासचिव गुलाम नबी आजाद खुलकर खड़े नजर आ रहे हैं.

खनन घोटाले में सीबीआई की छापेमारी से भड़के समाजवादी पार्टी और बसपा के सांसदों ने सोमवार को राज्य सभा में जमकर हंगामा किया. इस दौरान दिल्ली में आयोजित एक संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में सपा सांसद रामगोपाल यादव और बसपा सांसद सतीश चंद्र मिश्रा ने बीजेपी पर सीबीआई के दुरूपयोग का आरोप लगाया. illegal mining Ramgopal Yadav and satish chandra mishra targets BJP over CBI raids UPAT